होमjadi butigiloy benefits in hindi, गिलोय के फायदे और नुकसान

giloy benefits in hindi, गिलोय के फायदे और नुकसान

- Advertisement -

गिलोय औषधी के फायदे और नुकसान, Giloy benefits in hindi.

गिलोय Giloy औषसधी से होने वाले फायदे और नुकसान जैसे सभी महत्वपूर्ण जानकारी दी गई है. ताकि गिलोय पौधा से होने वाले सभी प्रकार की फायदों Giloy ke fayde से भरपूर लाभ ले सकेंगे। और इस औषधि को कितने प्रकार की बीमारियों में उपयोग किया जा सकता है एवं बीमारियों में उपयोग करने हेतु क्रिया विधि बताया गया है. इसके अलवा गिलोय औषधि से संबंधित कई अन्य जानकारी भी शामिल है

 

Giloy plant 

गिलोय Giloy एक दिव्य और शक्तिशाली औषधि है जो आमतौर पर जंगलों में पाए जाते हैं लेकिन कुछ परिस्थितियों में इस पौधा को घर पर भी लगाए जाते हैं. गिलोय औषधि को कई साल पहले से एक आयुर्वेदिक औषधि के रूप में इस्तेमाल होते आ रहा है wiki

इस औषधि को 100 से अधिक बीमारीओं प्रयोग किया जा चूका है जो कि पूर्ण रूप से कारीगर और सफल रहा है.और इसी औषधीय गुण के लोगो में जागरूकता में बढ़ोतरी हुई और लोगो ने गिलोय अपने घरो में उगना शुरू कर दिया है।

 

आपको बता दें कि गिलोय केवल भारत में ही पाया जाता है और भारत के सभी राज्य में पाई जाती है लेकिन कुछ ऐसी राज्य है जिसमें सबसे अधिक पाई जाती है. और गिलोय Giloy भारत में अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग नामों से जाना जाता है।

यदि आप गिलोय का सेवन करते हैं तो आपको कई बीमारियों से छुटकारा मिल सकती है और आपको हजारों लाखों रुपए बचा सकता है तो आइए जानते हैं सबसे पहले की गिलोय को कितनी नामों से जाने जाते हैं। 

 

गिलोय का नाम Giloy name.

भारत के अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग भाषाओं के आधार पर कई अलग-अलग नामों से जाना जाता है नाम कुछ इस प्रकार से है. गिलोय , अमृता , गुडुची , गुंचा , पालो , गुलवेल , गलो , मधुपर्णी आदि नामो से जाना जाता है।

 

गिलोय के फायदे  Benefits Of Giloy.

गिलोय एक औषधि जड़ी बूटी है जिसका उपयोग रसायन विज्ञान में भी किया जाता है इसके अलावा घरेलू उपचार के लिए किया जाता है जिससे कई बीमारियों से छुटकारा मिलती है आपको बता दें कि गिलोय औषधि में विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं. जो की हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है.
हम आपको उन सभी तत्वों के नाम विस्तार से बताएंगे, इससे पहले हम आपको बता दें कि गिलोय से कितने प्रकार की बीमारी को ठीक किया जा सकता है. गिलोय औषधि से ठीक होने वाली बीमारी जैसे खांसी, बुखार, डेंगू , डायबिटीज आदि जो नीचे दी गई है।
यदि आप नियमानुसार गिलोय औषधि का सेवन करते हैं तो आपके शरीर में विभिन्न प्रकार के समस्या से छुटकारा मिल सकता है और आपकी पाचन यंत्र स्वच्छ रूप से कम करता है इसके अलावा आपकी इम्यूनिटी क्षमता को बढ़ाता है। 
इसकी सबसे बड़ी खासियत है कि इंटरनल और एक्सटर्नल दोनों फैक्टर्स को रोकने के लिए सक्षम है इसके अलावा लीवर से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या हो तो आसानी से दूर हो जाती है. शारीरिक फोन को क्लीन करता है अथवा खून में वृद्धि होती है जिससे शरीर की त्वचा अच्छे हो जाते हैं
      Also Read: how to identify bhringraj plant. भृंगराज पौधे की पहचान कैसे करें
 

1. आंख के लिए फायदेमंद है गिलोय

आंख में जलन , चुभन , कला और सफेद मोतियाबिंद है गिलोय के रस को निकालकर के अनुसार शहद और सेंधा नमक को पीसकर अपनी आंखों में काजल की तरह उपयोग करते हैं तो आपका आंख से संबंधित समस्या दूर हो जाता है.

2. खांसी के लिए लाभदायक

यदि खांसी आपको परेशान करती हैं पुरानी खांसी है सीने में दर्द जलन तथा सांस लेने में दिक्कत जैसी समस्या है तो आपके लिए गिलोय औषधि उत्तम होगा. इसके लिए गिलोय का काढ़ा बनाकर शहद के साथ दिन में दो से तीन बार लेने से जल्द ठीक हो जाता है

3. बुखार में करें गिलोय का सेवन

बुखार किसी भी प्रकार के हो पुरानी हो या नया गिलोय का सेवन करते हैं तो जल्दी मिल जाएगी छुटकारा, इसके लिए गिलोय की टहनियों को काढ़ा बनाकर दिन में 3/4 बार सेवन करें जल्द ठीक हो जाएगी बुखार।
अथवा
पीलिया , गठिया , अस्थमा , लीवर , टीवी रोग , कब्ज , बवासीर , डायबिटीज , फलेरिया , कुष्ठ रोग , बुखार , कफ , कैंसर जैसी बीमारियों के लिए काफी लाभदायक है। giloy benefits in hindi
giloy benefits in hindi, गिलोय के फायदे और नुकसान

 

गिलोय सेवन करने की विधि

गिलोय चूर्ण- यदि आप गिलोय का चूर्ण लेना चाहते हैं तो आपको आधा चम्मच गिलोय चूर्ण और शाहद या गर्म पानी के साथ दिन में 2 बार सेवन कर सकते हैं।
सत्व- चुटकी भर गिलोय शहद के साथ मिलाकर खाली पेट ले सकते हैं।
कैप्सूल- भोजन करेने के बाद 1 / 2 कैप्सूल ले सकते है।
जूस- भोजन करने से पहले दो चम्मच गिलोय जूस giloy juice ke fayde और दो चम्मच पानी के साथ ले सकते हैं।
सेवन करने की विधि सभी बीमारियों में अप्लाई किया जा सकता है. लेकिन कुछ परिस्थितियों में काढ़ा की आवश्यकता होगी है। giloy ghanvati ke fayde.

गिलोय में पाए जाने वाले पोषक तत्व के नाम है Giloy benefits in hindi

गिलोय औषधि में पाए जाने वाले पोषक तत्व हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है जिससे हमारे शरीर में होने वाले विभिन्न प्रकार के रोगों को रोकने में मदद करता है.

गिलोय में पाए जाने वाले पोषक तत्व: ग्लूकोसाइड और टीनोस्पोरीन , पामेरिन , टीनोस्पोरीक और एसिड भी पाया है

अथवा

आयरन , कॉपर , फास्फोरस , कैल्शियम , जिंक , मैगजीन भरपूर मात्रा में पाई जाती है.  हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद है
 

Giloy ke fayde aur nuksan in hindi.

गिलोय का फायदा तो हम आपको बहुत सारे दे चुके हैं लेकिन अब जानते हैं इससे होने वाले नुकसान के बारे में.
  • सबसे पहले आप किसी बच्चे को ना दें उस पर बुरा असर पड़ सकता है नई बीमारियां उत्पन्न हो सकती है
  • प्रेग्नेंट महिला को बच्चा डिलीवरी होने से पहले या डिलीवरी होने के बाद भी ना दें. अन्यथा महिला पर बुरी प्रभाव पड़ सकता है.
  • जिस व्यक्ति का शुगर लेवल कम है उस परस्थिति में गिलोय का सेवन ना करें।
 
Also Read: Aparajita plant, अपराजिता के फायदे और नुकसान
Exit mobile version