opal stone in hindi सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

opal stone in hindi सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

opal stone in hindi ओपल स्टोन हिंदी में

Opal Stone In Hindi ओपल स्टोन हिंदी में, पूरी जानकारी प्राप्त करे। 

इस आर्टिकल के माध्यम से ओपल रत्न से संबंधित संपूर्ण जानकारी दिए गए, जैसे कि ओपल रत्न धारण करने के फायदे, धारण करने की क्रिया विधि, तथा कौन धारण कर सकता है आदि शामिल हैं जिसकी मदद से आप ओपल रत्न के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर Opal Stone का लाभ उठा सकते हैं opal stone ring


आपको बता दें कि ओपल रत्न हीरा की उपरत्न है. जिसकी की मान्यता आज से कई सदियों पहले से दी गई है ताकि आने वाले भविष्य में इस रत्न का धारण कर कष्टों से मुक्ति प्राप्त कर सके। आपको बता दें कि ओपल, हीरा आदि शुक्र ग्रह पर आधारित है जिसे धारण करने से शुक्र के अशुभ प्रभावों को नष्ट करता है. 

शुक्र ग्रह पर आधारित विभिन्न प्रकार की स्टोन यानी पत्थर पाए गए हैं जिसमें सबसे ज्यादा प्रभावशाली हीरा और हीरा का उपरत्न ओपल है और यह रत्न कई अलग-अलग रंगों में पाए जाते हैं तथा अलग-अलग डिजाइन में भी पाए जाते हैं।  हीरा को पूरे विश्वा में बहुत कम मात्रा में उपयोग किया जाता है इनकी हीरा बहुत महंगा होता है और बजट कम होने के कारण ओपल को भारी मात्रा में उपयोग किया जाता है

ओपल रत्न: ओपल रत्न कई अलग-अलग देशों से मंगाए जाते हैं और हर देश के अलग-अलग ओपल पाए जाते हैं जो दिखने में अद्भुत और अलग होता है


यदि आप अपने जीवन में अलग-अलग प्रकार के समस्या का सामना कर रहे हैं तो आपको शुक्र ग्रह का रत्न अवश्य धारण करना चाहिए ताकि आने वाले भविष्य में सुख शांति और एक अच्छा जीवन व्यतीत कर सके. तथा कारोबार में उन्नति हो सके। 

तो आइए जानते है ओपल रत्न की एकत्रित की गई फायदे opal stone in hindi


ओपल स्टोन के फायदे हिंदी में, opal stone benefits in hindi

ओपल रत्न विभिन्न प्रकार के फायदे होते हैं लेकिन हम आपको कुछ अद्भुत फायदे के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान करने वाले हैं 
यदि आप किसी प्रकार के बिजनेस व्यापारी है या किसी प्रकार की कंपनी को एक्सेस करते हैं और आप उसमें हानी  महसूस कर रहे हैं तो आपको इस रत्न को धारण करना उचित होगा अथवा आप किसी नौकरी की तलाश में है तो आपको ओपल रत्न अवश्य धारण करनी चाहिए. ओपल रत्न आपको सभी प्रकार के कष्टों से मुक्ति दिलाने का काम करेगा
यदि ऐसी समस्या के सामना कर रहे हैं तो आपको ओपल रत्न अवश्य धारण करनी चाहिए


ओपल रत्न की पहचान कैसे करें.

आपको बता दे कि ओपल स्टोन की पहचान करना आसान भी है और कठिन भी है. इसलिए आपको, दिए चरण एव कार्यबिधि के अनुशार ही पहचान करना चाहिए, ताकि आपको 100% ऑरिजनल opal stone प्राप्त हो। 

यदि आप 100% Natural stone प्राप्त  चाहते है तो. हो सके तो किसी अच्छे ज्योतिष महराज से स्टोन को खरीदने का कोसिस करे जिससे आप ऑरिजनल स्टोन प्राप्त सके। 

और ध्यान रखे की: जब भी कोई स्टोन ख़रीदे तो लैब रिपोट के साथ ख़रीदे। क्यूंकि लैब में सभी प्रकार के रत्न को परीक्षण कर बेचा जाता है। 
  
तो आइये जानते है पहचान करने की बिधि। 

  • सबसे पहले चेक करे की स्टोन को जस्मिन तेल में डुबोया गया है की नहीं,  क्यूँकि ओपल स्टोन को हमेशा जस्मिन तेल में रखा जाता है ये भी एक पहचान है। 
  • एक ऑरिजनल ओपल स्टोन में अजीबो गरीब सेडो दिखाई देते है जब उस पर रोसनी पड़ती है। 
  • आपल स्टोन हमेशा अपरदर्शी होता है जब उस पर प्रकाश डाला जाता है तो प्रकाश के रंग में एक गहरा रंग में रोशनी बाहर आती है.

Opal stone धारण करने की बिधि 


आपको बता दे की ओपल रत्न को चांदी रिंग बनवाकर अनमिका अंगुली में पहना  जाता है और यदि पुरष को पहनना है तो अपने दाहिने अनमिका अंगुली में धारण करे और स्त्री बाँये हाथ के अनमिका अंगुली में धारण किया जाता है। 
    

धारण करने का समय सुकल पक्ष में शुक्रवार के दिन धारण करने के लिए बेहद शुभ मन गया है 

इस रत्न को धारण करने के एक दिन पहले ओपल रत्न को दूध ,सहद और मिश्री के गोल में डुबो कर रखे और दूसरे दिन धारण करते समय धुप दिप जलाकर, कपूर के आरती दिखाकर ही धारण करे। धारण करते समय मंत्र का जप करे शुक्र का कोई भी मंत्र का जप कर सकते है। 


नोटिस: ओपल रत्न को धारण करने तथा इस बिधि को अपनाने से पहले किसी बड़े ज्योतिष महराज से सलह अवश्य लें। 


                     Also Read: zircon stone, जरकन धारण करने की विधि एवं पहचान 


Tags

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

buttons=(Accept !) days=(1)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !